ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: सोनी, चांदी, हीरे, जवारात की चोरी आम बात है, लेकिन पाकिस्तान में तो टमाटरों की चोरी हो रही है। पाकिस्तान में अब ये दिन आ गए हैं, जब सुरक्षा के इंतजाम इंसानों, सोना, चांदी या पैसों के लिए नहीं, बल्कि टमाटरों की हो रही है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि आपको शायद ये पता न हो कि पाकिस्तान में टमाटर की कीमत 320 रुपए (पाकिस्तानी मुद्रा में) प्रति किलो तक पहुंच गई है।

लेकिन सबसे बड़ी समस्या तो ये है कि पाकिस्तान में टमाटरों की लूट हो रही है और केवल यही वजह है कि किसानों ने टमाटर की फसल को लूट से बचाने के लिए खेतों में हथियारबंद सुरक्षाकर्मी तैनात कर दिए हैं। आपको बता दें कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के आर्थिक सलाहकार डॉक्टर अब्दुल हफीज ने ये दावा किया था कि कराची में टमाटर 17 रुपए किलो हैं। जिसके बाद सोशल मीडिया पर उनका मजाक भी उड़ा था। शुक्रवार यानी 15 नवंबर को कराची की थोक मंडी में टमाटर 320 रुपए प्रति किलोग्राम के भाव पर बिके हैं।

लेकिन ऐसा भी नहीं है कि केवल टमाटर के ही दाम बढ़े हैं, लौकी और दूसरी सब्जियों के दाम भी आसमान छू रहे हैं। यहां पर लौकी 170 रुपए किलोग्राम तक बिक रही है। वहीं, प्रधानमंत्री के आर्थिक सलाहकार डॉक्टर अब्दुल हफीज ट्रोल हो गए क्योंकि उन्होंने कहा कि कराची में टमाटर का भाव 17 रुपए प्रति किलो हैल और जब मीडिया ने उनसे पूछा कि आप जगह या मंडी का नाम बताएं, जहां इस सब्जी का यह दाम है। इस पर हफीज से जवाब नहीं बना।

वहीं, लोगों की नाराजगी से घबरा कर सरकार ने ईरान से टमाटर आयात करने का आदेश दिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, आयात होने के बावजूद टमाटर 150 रुपए किलो से कम नहीं होगा। अब पाकिस्तान के लिए तो ये चिंता का विषय है। क्योंकि जिस देश में टमाटर ही 320 रुपये प्रति किलोग्राम मिलेगा, वहीं की स्थिति कैसी होगी, ये हर कोई समझ सकता है।

LEAVE A REPLY