ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: हर साल की तरह इस साल भी आप होली के त्योहार का बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहे होंगे, तो आपको बतादें कि, इस बार  9 मार्च, 2020 को पूरे विधि-विधान से पूजा के बाद होलिका दहन किया जाएगा,जबकि 10 मार्च, 2020 को रंगों से होली खेली जाएगी। अब बात अगर होलिका दहन के मुहूर्त की करें तो होलिका दहन के 3 मुहूर्त हैं,

Holi-colour

जानिए होलिका दहन का शुभ मुहूर्त

– संध्याकाल में- 06 बजकर 22 मिनट से 8 बजकर 49 मिनट तक
– भद्रा पुंछ – सुबह 09 बजकर 50 मिनट से 10 बजकर 51 मिनट तक
– भद्रा मुख : सुबह 10 बजकर 51 मिनट से 12 बजकर 32 मिनट तक

Holi comes early for Congress supporters in Punjab

होली में त्वचा की देखभाल कैसे करें?

होली के इस त्योहार में पिचकारी, गुब्बारों, डाई और गुलाल में प्रयोग किए जाने वाले रंग क्या होली में त्वचा एवं बालों  के लिए सुरक्षित हैं? होली में इस्तेमाल किए जाने वाला सूखा गुलाल और गीले रंगों को प्राकृतिक उत्पादों से नहीं बनाया जाता है, बता दें कि इस सभी रंगों में माईका, लेड जैसे कैमिकल पाए जाते हैं, जिससे स्किन में न केवल जलन पैदा होती है, बल्कि सिर में भी ये रंग जमा हो जाते हैं।

रंगों के नुकसान से बचने के उपाय

1-होली खेलते समय रंग हमारे नाखूनों में भी भर जाते हैं, इससे बचने के लिए नाखूनों पर नेल वार्निश की मालिश  करें। 2-होली खेलने के बाद स्किन और बालों से जमे रंग निकालना काफी मुश्किल का काम होता है। इसके लिए फेस को।पहले साफ पानी से धोएं, इसके बाद क्लीजिंग क्रीम या लोशन का लेप लगाएं।3-होली खेलने से करीब 20 मिनट पहले त्वचा पर 20 एसपीएफ सनस्क्रीन लगाएं।4-अगर आपकी स्किन एलर्जिक है, तो आप 20 एसपीएफ से ज़्यादा वाली सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें।
5-आजकल मार्किट में सनस्क्रीन के साथ हेयर क्रीम काफी आसानी से मिल जाती है. थोड़ी-सी हेयर क्रीम लेकर अपनी दोनों हथेलियों पर फैला लें और बालों की हल्की-हल्की मालिश करें. इसके अलावा आप विशुद्ध नारियल तेल की मालिश भी कर सकते है। 6- होली खेलने से पहले बालों पर हेयर सीरम या कंडीशनर का उपयोग करें. इससे बालों को गुलाल से पहुंचने वाले सूखेपन से सुरक्षा मिलेगी तथा सूर्य की किरणों से होने वाले नुकसान से भी बचाव होगा। 7- होली खुले में खेली जाती है. ऐसे में सूर्य की गर्मी से भी त्वचा को नुकसान पहुंचता है. सूर्य   की किरण में मौजूद यूवी किरणें स्किन को ड्राई कर रंगों को काला करती हैं. ऐसे में आप कुछ घरेलू उपचार कर होली के त्योहार को  बिना किसी टेंशन के माना सकते हैं। 8- ज़्यादातर सनस्क्रीन में मॉइश्चराइज़र मौजूद होते हैं. अगर आपकी स्किन शुष्क है, तो पहले सनस्क्रीन लगाएं, फिर कुछ समय के बाद मॉइश्चराइज़र का प्रयोग करें।

 

 

 

 

LEAVE A REPLY