ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज में भारत को करारी हार का सामना करना पड़ा | कप्तान एरॉन फिंच (110) और डेविड वॉर्नर (128) की रिकॉर्ड बल्लेबाजी की बदौलत भारत को 10 विकेट से हरा दिया |इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया ने तीन वनडे मैचों की सीरीज में 0-1 की बढ़त बना ली है | इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करने मैदान में उतरी भारतीय टीम ने 49.1 ओवर में 255 रनों का स्कोर खड़ा किया | जिसका पीछा करने मैदान में उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम बिना कोई विकेट गंवाए आसानी से 37.4 इस लक्ष्य को हासिल कर लिया |

Ind Vs Aus

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ये पहला मुकाबला एक तरफा ही रहा | इस मुकाबले में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के सामने हर विभाग में फिसड्डी रही | बल्लेबाजी में शिखर धवन ने सर्वाधिक (74) और लोकेश राहुल ने (47) रन बनाये इसके अलावा कोई भी बल्लेबाज ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के सामने नहीं टिक पाए | जबकि भारतीय टीम के गेंदबाजों का प्रदर्शन भी ख़राब रहा |

Ind Vs Aus

भारत को मिली इस करारी हार के मुख्य कारण-:

पहले वनडे मैच में भारत की बल्लेबाजी में बड़ा बदलाव देखने को मिला | इस मुकाबले में विराट कोहली ने अपनी जगह छोड़ तीसरे नंबर पर लोकेश राहुल को भेजा | खुद चौथे नंबर पर विराट बल्लेबाजी करने के लिए आए | तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए लोकेश राहुल ने ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन के साथ मिलकर शतकीय साझेदारी की | लेकिन चौथे नंबर पर खेलने के लिए आए विराट 16 रन बनाकर सस्ते में निपट गए | जबकि तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करना विराट कोहली का शानदार रिकॉर्ड रहा है |

ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के सामने पस्त हुआ भारत

इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए रोहित शर्मा (10) रन बनाकर पवेलियन लौट गए | जिसके बाद शिखर धवन और केएल राहुल ने मिलकर पारी को मजबूत किया जिसके चलते दोनों के बीच 121 रनों की साझेदारी हुई | केएल राहुल अपने अर्द्धशतक बनाने से महज तीन रन से चूक गए | दूसरी तरफ धवन ने मोर्चा संभालते हुए वनडे में अपना 28वां अर्द्धशतक पूरा कर लिया | जिसके बाद धवन 74 रन बनाकर आउट हुए |

dhawan

इसके बाद कप्तान कोहली बल्लेबाजी करने के लिए आए | कोहली ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के खिलाफ एक-दो आकर्षक शॉट लगाए | सबकी नजरे विराट पर टिकीं थी कि वो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बड़ा स्कोर करंगे | लेकिन एडम जम्पा की फिरकी में वो फंस गए | एडम जम्पा ने अपने ही गेंद पर कोहली का कैच लपका और उन्हें जल्दी ही चलता कर दिया |

kohli

कोहली के बाद अब सारी उमीदें श्रेयस अय्यर (4 ) और ऋषभ पंत (28) पर थी | लेकिन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का और भी ज्यादा मनोबल बढ़ने के कारण भारत का एक भी बल्लेबाज उनके सामने नहीं टिक पाया | ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज मिचेल स्टार्क(3 विकेट), पैट कमिंस (2 विकेट)और केन रिचर्डसन (2 विकेट) की तिकड़ी ने पूरी भारतीय टीम को बिखेर कर रख दिया | हालाँकि बीच में पंत और रवींद्र जडेजा के बीच जरूर एक छोटी सी साझेदारी पनपी लेकिन दोनों ही बल्लेबाज खराब शॉट खेलकर अपना विकेट गंवा बैठे | जिसके बाद लास्ट में शार्दुल ठाकुर (13), मोहम्मद शमी (10) और कुलदीप यादव (17) ने मिलकर टीम के स्कोर को किसी तरह 255 रनों तक मुश्किल से पहुंचाया |

भारतीय गेंदबाजों का ख़राब प्रदर्शन

भारतीय टीम की गेंदबाजी मौजूदा समय में सबसे माना जाता है | लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुंबई वनडे में भारत की गेंदबाजी पूरी तरह से विफल रही | गौरतलब है कि 37.4 ओवर की गेंदबाजी में भारत का एक भी गेंदबाज विकेट नहीं ले पाया |
भारत की और से नंबर एक तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की गेंदबाजी नाकाम रही | बुमराह अपने 7 ओवर में 50 रन लुटा दिए | तो वहीं अनुभवी गेंदबाज मोहम्मद शमी का भी जादू नहीं चला | शमी ने 7.4 ओवर की गेंदबाजी में 58 रन दिए | भारतीय टीम के युवा गेंदबाज शार्दुल ठाकुर भी काफी महंगे साबित रहे। उन्होंने 5 ओवर की गेंदबाजी में 43 रन गवाएं |

आपको बता दे कुलदीप यादव ही एकमात्र ऐसे भारतीय गेंदबाज रहें जिन्होंने अपना स्पेल पूरा किया | कुलदीप ने अपने 10 ओवर में 55 रन खर्च किए | जबकि रवींद्र जडेजा ने अपनी 8 ओवर गेंदबाजी में 41 रन दिए |

kuldeep

LEAVE A REPLY