ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: थाइलैंड के बौद्ध मठ से हटाए गए 147 बाघों में से आधे से ज्यादा की मौत हो गई है। बता दें, साल 2016 में मठ पर बाघों समेत अन्य पशुओं की तस्करी के आरोप में इन बाघों को मठ से हटाया गया था।
lion

कंचनबरी प्रांत में स्थित वाट पा लुआंग्टा बुआ मठ ने बाघों की मौत के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। मठ का कहना है कि छोटे-से पिंजरे में बंद करने के कारण बाघ दम तोड़ रहे हैं।

thailand

वहीं वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि, दो सरकारी वन्यजीव अभयारण्यों में रखे गए 147 बाघों में से 86 की प्रतिरक्षा संबधी रोग से मौत हो चुकी है। वहीं अधिकारियों का कहना है कि, बीमारी के चलते बाघों की मौत हो गई।

lion

पशुओं की तस्करी के आरोप लगने के बाद बौद्ध मठ पर 2016 में छापा मारा गया था। छापे के दौरान 40 शावकों के शव फ्रीजर में पाए गए थे। इस मठ पर पर्यटक घूमने आते थे और बाघों को देखने का लुत्फ भी उठाते थे।

LEAVE A REPLY