ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: देश में इस समय प्रदूषण से हाहाकार मचा है। दिल्ली एनसीआर क्षेत्र, हरियाणा और पंजाब स्मॉग के कहर से जूझ रहे है। लोगों को इससे काफी परेशानियां हो रही हैं। इन परेशानियों से निजात पाने के लिए लोग दिल्ली और आसपास के राज्यों को छोड़ पहाड़ों की खुली हवा में सांस लेने के लिए  हिमाचल की ओर रुख कर रहे हैं। जिससे पहाड़ों में रौनक में चार चांद लग गए हैं और सैलानियों का तो मानों मेला ही लग गया है।
शिमला, मनाली, कुल्लू में पर्यटकों की संख्या इतनी बढ़ गई है कि, कुल्लू, मनाली और शिमला के होटलों में करीब 90 फीसदी होटल सैलानियों से भरे गए हैं। वहीं मनाली में अक्टूबर 2018 में टूरिटस्ट व्हीकल की संख्या 6,851 रही थी, जबकि अक्टूबर 2019 में यह संख्या करीब 11,865 थी।

किन्नौर और रोहतांग में पिछले दिनों हुई बर्फबारी के चलते मौसम बहुत ही सुहावना हो गया है। वहीं बर्फबारी का मजा लेने के लिए पर्यटक हिमाचल की वादियों में पहुंच रहे हैं। प्रदूषण से परेशान पहाड़ों में चैन की सांस लेने आए लोगों का कहना है कि, घर से बाहर निकलने पर आंखों में जलन पैदा होने लगती है। हमें यही सूझा कि कुछ दिन ही सही प्रदूषण से हिमाचल जाकर बचा जा सकता है। तो अगर आप भी बढ़ते प्रदूषण से परेशान है या हिमाचल के सुहावने मौसम का लुत्फ उठाना चाहते हैं,तो देर न करें। जल्दी से अपना सामान पैक करें और पहाड़ों में घूमने का मजा लें।

LEAVE A REPLY