ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: जब से नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू हुआ है तब से पुलिस प्रसाशन दवारा ड्राइविंग लाइसेंस और परमिट सर्टिफिकेट तत्काल नहीं दिखाने पर ताबड़तोड़ चालान करने की खबरें आ रही हैं | लेकिन आपको घबराने की जरुरत नहीं है |

सुप्रीम कोर्ट के सीनियर एडवोकेट विनय कुमार गर्ग और एडवोकेट रोहित श्रीवास्तव ने बताया कि सेंट्रल मोटर व्हीकल रूल्स   139 नियम के तहत प्रावधान किया गया है कि वाहन चालक को दस्तावेजों को पेश करने के लिए 15 दिन का समय दिया जाएगा | ट्रैफिक पुलिस तत्काल किसी का भी चालान नहीं काट सकती है |

आपको बता दे कि सेंट्रल मोटर व्हीकल रूल्स के मुताबिक ट्रैफिक पुलिस को फौरन रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी), इंश्योरेंस सर्टिफिकेट, पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल सर्टिफिकेट, ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) और परमिट सर्टिफिकेट नहीं दिखाते हैं, तो यह जुर्म नहीं है |

अब आपको ये भी बताते है कि अगर चालक 15 दिन के अंदर दस्तावेजों को दिखाने का दावा करता है, तो ट्रैफिक पुलिस या आरटीओ अधिकारी वाहन का चालान नहीं काटेंगे | इसके बाद चालक को 15 दिन के अंदर दस्तावेजों को ट्रैफिक पुलिस या अधिकारी को दिखाना होगा |

Watch Video 

 

LEAVE A REPLY