ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: चुनावी शोरगुल के बीच हरियाणा सरकार रॉबर्ट वाड्रा पर बड़ी कार्रवाई में जुटी हुई है। इससे बीजेपी को एक बार फिर कांग्रेस पर निशाना साधने का मौका मिल गया है। दरअसल, शिकोहपुर में वाड्रा द्वारा 7 करोड़ की जमीन सीएलयू लेकर 58 करोड़ में डीएलएफ को बेचने के मामले में प्रदेश का टाउन ऐंड कंट्री प्लैनिंग विभाग फाइल में जुड़े हर दस्तावेज को बारीकी से खंगाल रहा है। अब मनोहर सरकार के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने इस मामले को लेकर बड़ा बयान दिया है।

vadraअनिल विज ने कहा है कि, हरियाणा में कांग्रेस की सरकार थी उस समय केंद्र में भी कांग्रेस की सरकार थी उस समय शाही जमाई राजा ने कई प्रदेशों में बड़े-बड़े चमत्कार किए। उसी में से एक चमत्कार हरियाणा में करते हुए उन्होंने शिकोहपुर में 7 करोड़ की जमीन लेकर सरकार से सीएलयू ली और फिर उसे डीएलएफ को 58 करोड़ रुपये में बेच दिया।

anil vij

विज के आरोपों का दौर यहीं न थमा। उन्होंने आगे कहा कि, वाड्रा ने उस समय सीएलयू का प्रॉफिट कमाया क्योंकि कुछ ही महीने में 7 करोड़ की जमीन 58 करोड़ में नहीं बिक सकती। अब सरकार उसी का मुआयना कर रही है कि, लाइसेंस ठीक ढंग से ट्रांसफर हुआ था या नहीं हुआ था।

LEAVE A REPLY