ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: हरियाणा में बिना इनेलो छोड़े पार्टी के विधायकों को खुलेआम जेजेपी का समर्थन करना महंगा पड़ गया।विधानसभा कंवरपाल गुर्जर ने इनेलो के इन पांचों विधायकों को अयोग्य घोषित कर दिया। वही, इनेलो प्रवक्ता और वकील संदीप गोयत ने कहा कि, अयोग्य घोषित करार दिए गए पांचों विधायकों को 27 मार्च 2019 से एमएलए नहीं माना जाएगा।

haryana

 

आदेशों में स्पीकर ने कहा है कि इसमे फॉलोअप एक्शन रिपोर्ट भी ली जाएगी। इन पांचों विधायकों को मिले आवास, वित्तीय भते का लाभ नहीं मिलेगा।

inld
गोयत ने कहा कि कानून की प्रक्रिया के तहत उन्हें ये लौटाने भी पड़ेंगे। इनसे रिकवरी भी संभव है। गोयत ने आगे कहा कि, इन आदेशों को चैलेंज करने का पांचों विधायकों को अधिकार है। इनका दलबदल प्रमाणित हो चुका है। इस फैसले के बाद नैना चौटाला, अनूप धानक और राजदीप फोगाट तीनों अपने नाम के आगे पूर्व विधायक नही लगा सकते, क्योंकि ये पहली बार विधायक बने थे।

 

 

LEAVE A REPLY