ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: मानसा में एक पत्नी ने ऐसी वारदात को अंजाम दिया है जिससे पास के लोगों को ये यकीन करना मुश्कील हो रहा है कि आखिर कोई महिला ऐसा कैसे कर सकती है | हालाकि महिला को अपने किये पर पछतावे है लेकिन इस पछतावे का अब कोई फायदा नहीं |

शादी शुदा जिंदगी में पति पत्नी का विश्वास ही दोनों के रिश्ते को और मजबूत बनाता है लेकिन अगर इन दोनों में से कोई भी विश्वास को तोड़ने की कोशिश करता है तो वहीं से इस रिश्ते की नीभ कमजोर पड़ने लगती है | मानसा में भी एक पत्नी ने वो अपराध किया है जिसे सुनकर इलाके भर के लोग हैरान है कि आखिर कोई पत्नी अपने पति के साथ ऐसा कैसे कर सकती है |

दरअसल गांव दलेलवाला के रहना वाले शख्स की पत्नी सर्वजीत कौर ने अपने प्रेमी लखविंदर सिंह के साथ मिलकर अपने पति को मौत के घाट उतार दिया | बता दें कि इनके दो बच्चे भी हैं जिसके सर से पिता का साया जिंदगी भर के लिए उठ गया | पास के लोगों की माने तो दोनों पति पत्नी काफी खुश रहते थे | लेकिन अचानक ये खबर सुनकर उनके लिए ये यकीन करना मुश्कील है कि सर्वजीत कौर ने अपने आशिक के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया |

उसने अपने दो बच्चों के बारे में भी नहीं सोचा | परिजनों कहना है कि वो दोनों हर रोज के तहर खाना खाकर सोने चले गए थे लेकिन अचानक कमरे से पत्नी सर्वजीत कौर की चीखने की आवाज आई जिससे लोग कमरे की और भागे तो देखा की पति फंदे से लटका हुआ है जिसे उतार कर अस्पताल पहुंचाय़ा गया लेकिन तब तक उसकी मौत हो गई थी | जिसके बाद सभी को ये लगा कि किसी बात से परेशान होकर शख्स ने खुदकुशी की होगी |

शख्स के मौत के बाद ये मामला पुलिस तक भी पहुंची और पुलिस ने चंद घंटों में ही इस केस में वो खुलासा किया जिसकी परिजनों ने कभी कल्पना भी नहीं की होगी पुलिस ने आरपी पत्नी से जब सख्ती से सवाल जवाब करनी शुरू की तो उसने अपना जुर्म कबूल लिया और उसने बताया कि वो अपने आशिक लखविंदर सिंह के साथ मिलकर पहले अपने पति का गला दुपट्टे से घोट दिया और फिर उसे खुदकुशी का मामला बनाने के लिए उसे पंखे से लटका दिया | पुलिस ने उसी वक्त आरोपी पत्नी को अपनी गिरफ्त में ले लिया और कुछ देर बाद उसके आशिक को भी हिरासत में ले लिया |

आरोपी आशिक का कहना है कि वो अपनी पत्नी के साथ मारपीट करता था जिसके चलते उसने उसकी हत्या की थी | लेकिन इन दोनों के प्यार के बीच उन दो बच्चों को इसकी ऐसी सजा मिली जिसेके वो हकदार भी नहीं थे | आरोपी पत्नी के प्यार ने दो बच्चों को अनाथ बना दिया हलाकि अब उसे अपने किये पर पछतावा है लेकिन अब इस पछतावे का कोई फायदा नहीं क्योंकि अब जे जुर्म उन्होंने किये हैं उसकी सजा उनको जरुर मिलेगी |

Watch Video

LEAVE A REPLY