ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: नोटबंदी को आज पूरे दो साल हो गए है। मोदी सरकार ने काले धन को बाहर निकालने के लिए 500 और 1000 के नोट को रद्द कर दिया था। देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर 2018 को रात 8 बजे ऐलान करते हुए कहा कि 500 और 1000 के नोटो को बंद कर दिया है इन नोटोँ की जगह पर नए 500 के और 2000 रूपये के नोट जारी किए जाएगे।

Notebandi

इस ऐलान नामे के बाद बैँक में लंबी लंबी लाइनेँ देखी गई। ये लाइनेँ सुबह से ही लगनी शुरू हो जाती थी और करीब आधी रात तक लगी रहती थी।

नोटबंदी के ऐलानामे के बाद लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा जिस कारण आम जनता ने मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। साथ ही विरोधी पार्टियों ने भी जमकर मोदी सरकार पर निशाना साधा। गौरतलब है कि नोटबंदी को हुए करीब दो साल हो गए है।

Notebandi

जिसको लेकर कांग्रेस सरकार मोदी सरकार के खिलाफ विरोध करने की तैयारी कर रही है। नोटबंदी के मामले को लेकर कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता सड़को पर उतरेंगे और मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी करेंगे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि मोदी सरकार को जनता से मांफी मांगनी चाहिए क्योकि नोटबंदी करने से लोगों को कोई फायदा नहीं हुआ पर उनको काफी परेशानी का सामना जरूर करना पड़ा। जिस कारण पीएम नरेंद्र मोदी जनता से माफी मांगनी चाहिए।

LEAVE A REPLY