ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया न्यूज: नशा तस्कर चाहे कितना भी शातीर क्यों ना हो या पुलिस के आगे उनकी एक नहीं चलती जी हां पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो कई महिनों से इस वारदात को अंजाम देते थे | लेकिन अब उनका ये खेल खत्म हो चुका है |

देश में नशा का कारोबार धड़ल्ले से किया जाता है और नशा तस्कर इसके लिये कई तरह के तकनीक अपनाते हैं जिससे पुलिस को उनके बारे में पता नहीं चल पाये लेकिन फिर भी बुराई का अंत एक ना एक दिन होकर रहता है | ठीक उसी तरह नशा तस्कर को पकड़ने में फतेहाबाद पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है | जहां एक मिजोरम की रहने वाली महिला रियल जूस और बिस्कुट के डिब्बों में हेरोईन को छिपाकर ले जा रही थी जिसे पुलिस ने रंगे हाथों धर दबोचा | महिला के साथ कार चालक को भी पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है | महिला के पास से पुलिस को 4 किलो हेरोईन मिली है | पुलिस की पूछताछ के दौरान आरोपियों ने कबुला है कि वो ये हिरोइन दिल्ली से लेकर आ रहे थे जिसे उन्हें पंजाब में सप्लाई करना था और इससे पहले भी उन्होंने पंजाब में लगभग 9 बार हेरोइन की सप्लाई की है | गिरफ्तार कार चालक दिल्ली का रहने वाला है जो इस तस्करी में महिला की मदद करता था |

आरोपियों ने पुलिस की पूछताछ में ये भी कबूली है कि ये हेरोइन दिल्ली से एक निग्रो से लेकर आये थे ओर निग्रो माइक के कहने पर ही पंजाब में सप्लाई करते थे |वो पिछले करीब तीन महीनों में पंजाब में लगभग 9 बार हेरोईन की सप्लाई दे चुके है |फिलहाल पुलिस ने आरोपी महिला और कार चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की कारवाई शुरू कर दी है | बताया जा रहा है कि पकड़ी गई हेरोईन की अंतराष्ट्रीय बाजार में कीमत करोड़ के करीब है | बता दें कि इससे पहले भी 19 मार्च 2018 में खन्ना पुलिस ने 2 किलों हेरोईन सहित एक मिज़ोरम लड़की और दिल्ली के ड्राइवर को गिरफ्तार किया था और नशे के खिलाफ चलाई मुहीम के अंतर्गत अब तक खन्ना पुलिस ने लगभग 15 किलो हेरोईन सहित कई विदेशियों को गिरफ्तार कर चुकी है |

 इस नशा तस्करी के लिये लोग विदेशी महिलाओं का सहारा लेते हैं जिससे पुलिस को उनपर शक ना हो लेकिन पुलिस भी उनके प्लान पर पानी फेर देती है और आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचा देती है |

Watch Video

LEAVE A REPLY