ऑनलाइन डेस्क/लिविंग इंडिया : सेवानिवृत जस्टिस महताब सिंह गिल ने मंगलवार को पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह को पांचवीं अंतरिम रिपोर्ट सौंप दिया। रिपोर्ट में 41 मामलों में दर्ज FIR को वापस लेने की बात कही गई है। वहीं रिपोर्ट में गुरदासपुर के SDM विजय सयाल और सिख प्रचारक बलजीत सिंह दादूवाल के खिलाफ दर्ज मामलों को खत्म करने को भी कहा गया है। दरअसल, रिपोर्ट में जिक्र है कि बदले की भावना के कारण फरीदकोट विजिलेंस ब्यूरो ने विजय सयाल के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। क्योंकि, उन्होंने आर्बिट बस मामले में सक्रियता दिखाई थी। दूसरी तरफ, सिख प्रचारक बलजीत सिंह दादूवाल पर आरोप लगाया गया था कि 10 नवंबर 2015 को एक धार्मिक समागम में उन्होंने अपनी स्पीच से लोगों की भावना भड़काने का काम किया था। जांच में यह आरोप भी गलत निकला।

justice mehtab singh handover report capt amarinder singh

पांचवीं रिपोर्ट में जस्टिस गिल ने 118 मामलों को गलत बताते हुए खत्म करने की सलाह दी है। बता दें जस्टिस गिल ने अभी तक 655 मामलों की जांच की है। इसमें 397 मामलों को खारिज करने के साथ ही 258 मामलों में राहत देने की बात कही है। 23 अगस्त 2017 को जस्टिस गिल ने पहली रिपोर्ट सौंपी थी। इसमें कुल 178 मामलों में से 58 को खारिज करते हुए 120 में राहत देने की बात कही थी। 23 सितंबर 2017 को सौंपी गई दूसरी अंतरिम रिपोर्ट में 106 में से 59 मामलों को खारिज करते हुए 47 में राहत देने की बात कही थी। 23 अक्टूबर 2017 को सौंपी गई तीसरी अंतरिम रिपोर्ट में 81 को खारिज, जबकि 20 में राहत देने का निर्देश दिया था। 30 नवंबर 2017 को सौंपी गई तीसरी अंतरिम रिपोर्ट में जस्टिस महताब ने 81 को खारिज करने की बात कही थी और 30 मामलों में राहत देने का निर्देश दिया था।

 

LEAVE A REPLY