लुधियाना (पंजाब) : पुलिस ने सोमवार को हुई एक महिला के मौत की गुत्थी सुलझा ली है। और हत्या के आरोप में महिला के ही दो बेटों को गिरफ्तार किया है। दरअसल लुधियाना के पुरानी माधोपुर के गली नंबर 5 में सोमवार की देर रात 57 वर्षीय अमरजीत कौर की मौत हो गई थी। महिला का शव रसोई में रस्सी के सहारे लटका दिया गया था। महिला तीन मंजिला बिल्डिंग में ग्राउंड फ्लोर पर रहती थी। जब पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो एक ऐसे सच से परदा उठा, जिस पर एकबार में भरोसा करना संभव नहीं है। जांच में सामने आया कि महिला की हत्या प्रार्प्टी के विवाद में कर दिया गया। पुलिस ने बताया कि अमरजीत कौर मैट्रीमोनियल साइट से लोगों को शादी का झांसा देकर पहले फंसा लेती थी, फिर उस पर झूठा मुकदमा करने की बात कहकर रूपये ऐंठती थी। जो उसकी बात नहीं मानता था तो उसके खिलाफ मामला दर्ज करवा देती थी।

मामले की जानकारी देते पुलिस पदाधिकारी।
मामले की जानकारी देते पुलिस पदाधिकारी।

वहीं अमरजीत कौर किसी से शादी करना चाहती थी, जिसका विरोध उसके दोनों बेटे कर रहे थे, यही उसकी हत्या का कारण बना। अमरजीत की हत्या के बाद बेटों ने उसे कत्ल की शक्ल देने की कोशिश की। मौत की सूचना सबसे पहले अमरजीत के बेटे समरजीत ने पुलिस और रिश्तेदारों को दी थी। जब पुलिस ने घटनास्थल की जांच की और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा तो सबकुछ साफ हो गया। पुलिस ने बताया कि पहले अमरजीत का रस्सी से गला घोंटा गया, इसके बाद शव को रस्सी से लटका दिया गया। हैरानी की बात यह थी कि अमरजीत से शरीर पर पड़े जेवर के अलावा कमरे में रखे कीमती सामान, नगदी से किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं की गई थी। यहां तक कि घर में रहने वाले 15 किराएदारों को भी इसका पता नहीं चला कि अमरजीत की मौत हो गई है। इससे पुलिस का शक गहराता गया और जब जांच आगे बढ़ाई गई तो सारी सच्चाई सामने आ गई। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और यह भी पता लगाने का प्रयास कर रही है कि कहीं हत्या में कोई और तो शामिल नहीं।

 

LEAVE A REPLY